पदबंध किसे कहते हैं? पदबंध कितने प्रकार के होते हैं?

पदबंध किसे कहते हैं? पदबंध कितने प्रकार के होते हैं?

आज इस आर्टिकल में हम हिंदी के टॉपिक पदबंध के बारे में बात करेंगे जिसके बारे में कई प्रकार के क्वेश्चन कंप्लीट एग्जाम्स में पूछे जाते हैं तो ध्यान से समझिये की “ पदबंध किसे कहते हैं? पदबंध कितने प्रकार के होते हैं?”

पदबंध किसे कहते हैं? पदबंध कितने प्रकार के होते हैं?
Padbandh

पदबंध किसे कहते हैं?

जब दो या दो से अधिक पद मिलकर एक व्याकरणिक इकाई का बोध कराये और वह व्याकरणिक इकाई जिस पद पर आधारित हो उसे पदबंध करते है।

जैसे- कश्मीर से कन्याकुमारी जाने वाले लोग रास्ते में हैं।

यहाँ ‘लोग’ एक संज्ञा है।

पदबंध के प्रकार

पदबंध के पांच प्रकार होते हैं

  1. संज्ञा पदबंध 
  2. सर्वनाम पदबंध
  3. विशेषण पदबंध
  4. क्रिया पदबंध
  5. क्रियाविशेषण पदबंध

संज्ञा पदबंध

जब दो या दो से अधिक पद मिल कर एक व्याकरणिक इकाई का बोध कराएं और वह व्याकरणिक इकाई संज्ञा पद पर आधारित हो तो उसे संज्ञा पदबंध कहते है।जैसे-

उदाहरण:-
वसुदेव के पुत्र कृष्ण ने कंस का वध किया।
सामने के मकान में रहने वाले लड़की आज चली गई।
देश के लिए मर मिटने वाला लड़का आज शहीद हो गया।
शेर की तरह दहाड़ने वाला मोहन आज शांत क्यो है?
बहुत ज्यादा बोलने वाली लड़की आज चली गई।
मोहन का भाई सोहन बहुत बोलता है।
मोटा आदमी सीमा का पति है।
मेरे सामने वाला लड़का चोर है।

सर्वनाम पदबंध

जब दो या दो से अधिक पद मिल कर एक व्याकरणिक इकाई का बोध कराए और वह व्याकरणिक इकाई सर्वनाम हो,सर्वनाम पदबंद कहलाता है  जैसे – 

शेर की तरह दहाड़ने वाले तुम आज चुप क्यों हो?
बाजार में खोई वह यहां मिली है। 
हैं कोई ऐसा यहां, जो इसको हरा सके।
बड़ी शेखियाँ बखेरने वाला वह आज शांत है।
तकदीर का मारा में आज यहां पहुंच गया।
बहुत बोलने वाली तुम आज चुप कैसे बैठी हो?
नसीब का मारा वह भला किसी का क्या बुरा करेगा।

विशेषण पदबंध

जब दो या दो से अधिक पद मिलकर व्याकरणिक इकाई का बोध कराएं और वह व्याकरणिक इकाई विशेषण हो, विशेषण पदबंध कहलाता है।जैसे-

सीमा बहुत सुंदर लड़की है।
मैं उसे कामचोर कहता हूं। 
मनीषा सुंदर, सुशिक्षित और संस्कारी लड़की है। 
सस्ता खरीदा हुआ सामान ज्यादा दिन नहीं चलता।
मीठे-मीठे सपने देखने वाले लोग अकर्मण्य होते हैं।
मैं उसे किताबी कीड़ा कहता हूं।
विजय सबसे अधिक परिश्रमी छात्र है।
जोर जोर से चिल्लाने वाले इधर आ।
जोर-जोर से चिल्लाने वाले तुम कौन हो? 
विकास बहुत ही शरारती लड़का है। 
विजय की बहन मीनू बहुत ही समझदार है। 
उत्कृष के विद्यार्थी परिश्रमी, प्रतिभावान और गुणवान है।

क्रिया पदबंध

जब दो या दो से अधिक पद मिलकर एक व्याकरणिक इकाई का बोध कराए और वह व्याकरणिक इकाई क्रिया हो, क्रिया पदबंध कहलाता है।जैसे –

मोहन बोल सकता है। 
मैं लिख सकता हूं। 
अंकित खाना खाकर सो गया। 
मैं खाना पका सकता हूं। 
मुकेश खेल रहा है। 
रवि चला गया। 
मोहित अब चल भी नहीं सकता।
मैंने खाना इतना खा लिया कि अब चला भी नहीं जा रहा।
उसे अब चला जाना चाहिए।
नाव पानी में डूब गई। 
मोनिका मर गई।

क्रियाविशेषण पदबंध

जब दो या दो से अधिक पद मिलकर एक व्याकरणिक इकाई का बोध कराए और वह व्याकरणिक इकाई कोई अव्यय हो अर्थात क्रिया की विशेषता बताएं, क्रिया विशेषण पदबंध कहलाता है।जैसे- 

बच्चा धीरे धीरे चलता है। 
कश्मीर से कन्याकुमारी तक भारत एक है।
कल की अपेक्षा आज सर्दी अधिक है।
विजय अभी-अभी गया है।
मैं पहले की अपेक्षा आज ज्यादा लिखता हूं।
जयपुर से जोधपुर तक एक लंबा मार्ग है।
मैं धीरे-धीरे दुकानदार के पास पहुंचा।
वह ऊपर बैठा है।
रवि अचानक गिर गया।
चेतक घोड़ा तेज दौड़ता है।
वह हंसते-हंसते सो गया।
मेरे मित्र ने अपने भाई को धीरे-धीरे भगा दिया।

तो इस आर्टिकल में हमने “पदबंध किसे कहते हैं? पदबंध कितने प्रकार के होते हैं?” के बारे में बात की अगर इससे संबंधित कोई सवाल हो तो कमेंट बॉक्स में पूछे और हिंदी व्याकरण की पूरी जानकारी हमारे ब्लॉग से प्राप्त करे।


Leave a Comment