एनर्जी कंजर्वेशन(ऊर्जा संरक्षण) क्या है और यह कब मनाया जाता है और ऊर्जा संरक्षण कैसे किया जाए?
दुनिया में एनर्जी(ऊर्जा) का एक महत्वपूर्ण स्थान है।
एनर्जी के बिना व्यक्ति कुछ नहीं कर सकता है।इस दुनिया में रहने वाले हर व्यक्ति को किसी ना किसी रूप में कम या ज्यादा ऊर्जा की आवश्यकता पड़ती है तो जाहिर सी बात है ऊर्जा किसी न किसी स्रोत से प्राप्त होती है  जिसकी उपयोग की एक निश्चित सीमा होती है।अतः Energy को save करने की जरूरत है तो आज हम इसी बारे में “एनर्जी कंजर्वेशन क्या है और कब मनाया जाता है और ऊर्जा संरक्षण कैसे किया जाए?” के बारे में बात करना जा रहे हैं।

Energy-Conversation-in-hindi


एनर्जी कंजर्वेशन(ऊर्जा संरक्षण) क्या है(What is Energy Conservation?)

एनर्जी कंजर्वेशन को हिंदी में ऊर्जा संरक्षण कहा जाता है।ऊर्जा संरक्षण से तात्पर्य है हमारे पास जो ऊर्जा(एनर्जी) उपलब्ध है,उसका उपयोग इस तरीके से किया जाए कि उसकी बचत ज्यादा से ज्यादा हो और Energy को Save(ऊर्जा बचत) किया जा सके।

ऊर्जा जितनी कि हमें जरूरत है,उससे भी कम एनर्जी में हमारा काम पूरा हो तो आने वाली पीढ़ियां उस ऊर्जा का भरपूर उपयोग कर सकेगी क्योंकि ऊर्जा की एक सीमा होती है और इसका उसे अधिकतम उपयोग होने के बाद समाप्त हो जाती है तो जाहिर सी बात है ऊर्जा के अन्य विकल्प भी तलाशने होंगे और ऊर्जा संरक्षण भी करना होगा ताकि ऊर्जा की बचत हमेशा होती रहे और यह हम सभी की हमारी जिम्मेदारी है।

InterNational Energy Conservation Day(विश्व ऊर्जा संरक्षण दिवस)

विश्व ऊर्जा संरक्षण दिवस साल 1991 से प्रतिवर्ष 14 दिसंबर को मनाया मनाया जाता है।यह पूरी दुनिया में एक साथ 14 दिसंबर को मनाया जाता है।इसका उद्देश्य पूरी दुनिया में होने वाली ऊर्जा खपत को कम से कम करना है व ऊर्जा संरक्षण करना है और इसका काम उर्जा के नए नए विकल्प तलाशना भी है और इस बारे में लोगों को जागरुक करने के लिए यह विश्व ऊर्जा संरक्षण दिवस मनाया जाता है।

Save Energy In Normel Life( सामान्य जीवन मे ऊर्जा संरक्षण कैसे किया जाए?)

ऊर्जा संरक्षण(Energy Management) हमारी जिम्मेदारी है तो जाहिर सी बात है और ऊर्जा को बचाने के लिए कदम उठाने होंगे और लोगों को जागरूक करना होगा।हम ऐसे कई कदम है जो आपने सामान्य जीवन में उठाकर एक बड़ा बदलाव ला सकते हैं तो यहां पर हम कुछ बातें बताने जा रहे हैं जिन पर आप अमल कर सकते सकते है और आप लोगों को ऊर्जा संरक्षण(एनर्जी कंजर्वेशन)पर पोस्टर,इमेजेस,निबंध लिख कर लोगों को जागरूक कर सकते हैं।

●  जरूरत ना होने पर लाइट,पंखे,कूलर आदि को बंद करके रखें।
●सामान्य बल्ब की जगह सीएफएल का प्रयोग करें।
● आजकल एलईडी लाइटों का भी प्रचलन है तो आप उनका भी उपयोग कर सकते हैं क्योंकी CFL,LED थोड़ी महंगी होती है लेकिन यह लाइट की बहुत बचत करती है और लंबे समय तक काम में आती है।
● सबसे से ज्यादा बिजली की खपत रेफ्रिजरेटर(फ्रीज़)करता है तो आप इसके कूलिंग सिस्टम को हमेशा धूल मिट्टी आदि को साफ करते रहे क्योंकि इसको साफ ना करने पर बिजली की खपत भी ज्यादा होती है।
● ISI (आईएसआई) द्वारा चिन्हित विद्युत उपकरणों का ही उपयोग करें।
● फ्रिज का दरवाजा बार-बार खोलने और बंद करने से बचें।इससे बिजली खपत होती है।
● दिन के समय लाइट्स को बंद रखें।
● घरों में पानी की टंकी को भरते समय उनके व्यर्थ में बहने वाले पानी को बचाकर बिजली की बचत की जा सकती है।
● खाना बनाने में अच्छी ऊर्जा क्षमता वाले बर्तनों का उपयोग करें।


अगर आपके कोई विचार है तो उसे कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें।अगर आपको पोस्ट पसंद आई हो तो सोशल मीडिया पर शेयर करना ना भूलें।

TAGS:-
एनर्जी कंजर्वेशन(ऊर्जा संरक्षण) क्या है,
विश्व ऊर्जा दिवस,ऊर्जा संरक्षण,save Energy, Energy Management,energy efficiency in hindi