जनसंख्या वृद्धि किसे कहते है? इसके प्रकार

आज इस आर्टिकल में हम जानेंगे कि ” जनसंख्या वृद्धि किसे कहते है? व जनसंख्या वृद्धि के प्रकार कोंनसे है? “

जनसंख्या वृद्धि किसे कहते है?

जनसंख्या वृद्धि किसे कहते है? इसके प्रकार
jansankhya vriddhi kise kahate hain aur prakar

समय के दो अन्तरालों के बीच एक क्षेत्र विशेष में रहने वाली जनसंख्या में परिवर्तन को जनसंख्या वृद्धि कहा जाता है। इसे जन्म दर तथा मृत्यु दर के अन्तर के द्वारा ज्ञात किया जाता है। 

जनसंख्या वृद्धि के प्रकार

जनसंख्या वृद्धि निम्न प्रकार की होती है, यथा

(i) प्राकृतिक वृद्धि

किसी क्षेत्र विशेष में दो समय अन्तरालों में जन्म और मृत्यु के अन्तर से बढ़ने वाली जनसंख्या, उस क्षेत्र की प्राकृतिक वृद्धि कहलाती है। अतः प्राकृतिक वृद्धि = जन्म – मृत्यु

(ii) वास्तविक वृद्धि 

जनसंख्या में वास्तविक वृद्धि ज्ञात करने के लिए जनसंख्या में जन्म एवं मृत्यु के साथ आप्रवास एवं उत्प्रवास का भी समायोजन किया जाता है। जनसंख्या में वास्तविक वृद्धि = जन्म-मृत्यु + आप्रवास-उत्प्रवास

(iii) धनात्मक वृद्धि

 जब किसी क्षेत्र विशेष में जन्म दर, मृत्यु दर से अधिक हो अथवा जब अन्य देशों से लोग स्थायी रूप से उस देश में प्रवास कर जाएँ, तो उसे जनसंख्या की धनात्मक वृद्धि कहते हैं।

Related:  All Pandavas And Kauravas Names In Hindi 5 पांडवों और 100 कौरवों के नाम

(iv) ऋणात्मक वृद्धि 

जब दो समय अन्तरालों के बीच जनसंख्या कम हो जाए तो उसे जनसंख्या की ऋणात्मक वृद्धि कहते हैं। यह तब होती है, जब जन्म दर, मृत्यु दर से कम हो जाए अथवा उस क्षेत्र से लोग अन्य देशों/क्षेत्रों में प्रवास कर जाएँ।

तो दोस्तो आपको यह जनसंख्या व्रद्धि की Short जानकारी कैसी लगी।

में अपने शौक व लोगो की हेल्प करने के लिए Part Time ब्लॉग लिखने का काम करता हूँ और साथ मे अपनी पढ़ाई में Bed Student हूँ।मेरा नाम कविश जैन है और में सवाई माधोपुर (राजस्थान) के छोटे से कस्बे CKB में रहता हूँ।


Leave a Comment