Wednesday, 24 April 2019

रोचक मनोवैज्ञानिक तथ्य की लिस्ट।Physcogical Facts Of 2019 In Hindi

Physiological Fact of 2019 In Hindi- रोचक मनोवैज्ञानिक तथ्य
Physclogical Facts In Hindi
मनुष्य रहस्य से भरा हुआ प्राणी है और समय-समय पर वैज्ञानिक ने कई Reasearch(खोज) की है जिनके आधार पर कई रोचक मनोवैज्ञानिक तथ्य(Physclogical Facts)निकल कर सामने आये है तो आज हम ऐसे ही कुछ साइंटिफिक फैक्ट और मनोवैज्ञानिक तथ्य आपके सामने इस आर्टिकल में रखने जा रहे है।

Top Physclogical Fact of 2019 In Hindi-मनोवैज्ञानिक तथ्य जिनसे आप अनजान है-


◆10-29 साल के बीच के 90% लोग अपने फोन के साथ सोते हैं।

जब आपके दोस्तों का समूह हंसी मजाक करता है, अगर लगातार कोई विपरीत लिंग आपकी आंखों में देखने की कोशिश करता है, तो इसका मतलब है कि वह आपमें रुचि रखता है। क्योंकि हंसी के वक़्त में, हम उस व्यक्ति को देखते हैं जिसकी हम सबसे अधिक देखभाल करते हैं।

◆20 सेकंड के लिए गले लगाने से ऑक्सीटोसिन निकलता है, जिसके कारण आप किसी पर अधिक विश्वास कर सकते हैं।

◆उच्च-आवृत्ति वाले संगीत को सुनने से आप शांत, तनावमुक्त और खुश महसूस करते हैं।

टूटे दिल के कारण मरना संभव है। इसे स्ट्रेस कार्डियोमायोपैथी कहा जाता है।

डार्क चॉकलेट में एक रसायन होता है जो हमारे शरीर में फेनिलथाइलमाइन में परिवर्तित होता है, जो मूड को शांत करता है और आपके तनाव के स्तर को कम करता है।

◆यदि कोई व्यक्ति बहुत सोता है, तो वह दुखी है।

◆आप जिस व्यक्ति से कम से कम आकर्षित होते हैं, वह व्यक्ति वह होगा जो आपकी ओर सबसे अधिक आकर्षित होता है

◆एक महिला के साथ बातचीत करने से आदमी को मानसिक शक्ति मिलती है।

◆रिश्ते में रहते हुए बुद्धिमान लोगों के वफादार रहने की संभावना अधिक होती है।

◆आपका पसंदीदा गीत शायद आपका पसंदीदा है क्योंकि आप इसे अपने जीवन में एक भावनात्मक घटना से जोड़ सकते हैं।

◆भारत के 5 में से 1 व्यक्ति मानसिक रूप से उदास है, जो इसे दुनिया का सबसे उदास देश बनाता है।

◆हममें से ज्यादातर लोग फैंटम वाइब्रेशन सिंड्रोम से पीड़ित हैं जो यह महसूस करते है कि आपका फोन हिल रहा है जबकि यह वास्तव में नहीं है।

◆एक जीन है जो आपको अधिकांश समय नकारात्मक होने का कारण बना सकता है।

प्यार में पड़ना इसमें केवल 4 मिनट लगते हैं

◆जो लोग आसानी से विचलित हो जाते हैं वे अधिक रचनात्मक होते हैं और अधिक बुद्धि वाले होते हैं।

क्रोध ईमानदारी से जुड़े मस्तिष्क के क्षेत्र को ट्रिगर करता है, जब सच्चाई सामने आती है।

◆अगर दो लोग लंबे समय तक एक साथ रहते हैं, तो वे एक दूसरे की तरह दिखने लगते हैं। यह आंशिक रूप से पोषण, साझा आहार और खाने की आदतों के कारण होता है, लेकिन बहुत अधिक प्रभाव बस चेहरे के भावों की नकल है।

◆आपकी लिखावट जितनी छोटी होगी, आप बातचीत के लिए उतने ही कम खुलेंगे।

◆अगर किसी पर Crush 4 महीने से अधिक समय तक रहता है, तो इसे प्यार माना जाता है।

दर्पण में खुद से बात करना वास्तव में आपको स्मार्ट बनाता है।

◆लाल रंग की पोशाक पहनना आपको विपरीत लिंग के लिए वांछनीय बनाता है।

Haters वास्तव में आप से नफरत नहीं करते। वास्तव में, वे खुद से नफरत करते हैं क्योंकि आप जो चाहते हैं उसका प्रतिबिंब हैं।

रचनात्मक लोग आसानी से ऊब जाते हैं।

ध्यान(Meditation) सिर्फ 8 सप्ताह में मस्तिष्क की संरचना को बदल सकता है। यह सीखने के साथ जुड़े मस्तिष्क के कुछ हिस्सों में ग्रे पदार्थ को भी बढ़ाता है।

चॉकलेट खाने से तनाव कम होता है।

प्यार पाना सबकी टाइमिंग है। मनोविज्ञान कहता है कि सही व्यक्ति को खोजना संभव है, लेकिन गलत समय पर।

◆जो लोग आपको सबसे अच्छी सलाह देते हैं वे ज्यादातर समस्याओं के साथ होते हैं।

सोचने से कैलोरी बर्न होती है।

◆जब कोई कहता है कि "मुझे तुमसे नफरत है", तो उनका वास्तव में मतलब है "तुमने मुझे चोट पहुँचाई"।

◆हमेशा उस विकल्प के साथ जाएं जो आपको डराता है, क्योंकि वही है जो आपको बढ़ने में मदद करने वाला है।

◆जो लोग दो भाषाएं बोलते हैं,वे अनजाने में अपने (Personality)व्यक्तित्व को शिफ्ट कर सकते हैं जब वे एक भाषा से दूसरी भाषा में स्विच करते हैं।

अपने सपनों को याद रखना चाहते हैं? बिस्तर पर जाने से पहले आधा गिलास पानी और जागने के बाद आधा गिलास पानी पिएं।यह काम करता हैं!

◆एक बार जब आप प्यार में पड़ जाते हैं, तो फिर से दोस्त बनने पीछे(Back) नहीं आ सकते।

जोड़े(Couples) जो एक-दूसरे के समान हैं, वे रोमांटिक रिश्तों में रहने की संभावना नहीं रखते हैं।

◆जो लोग लंबे समय तक कंप्यूटर पर काम करने या टीवी देखने में बिताते हैं, उन्हें TATT (हर समय थका हुआ) सिंड्रोम से पीड़ित होने की संभावना है।

◆दर्द हमारे व्यक्तित्व को बदल देता है। संघर्ष की हर किसी की अपनी कहानी है।

महिलाएं जिस व्यक्ति की देखभाल करती हैं, उसके साथ अधिक बहस करती हैं। यदि वे नहीं करते हैं, तो वे रुचि नहीं रखते हैं।

◆हर व्यक्तित्व की अलग-अलग खुशबू होती है।

◆यदि आप मुस्कुराते हैं जब कोई भी आसपास नहीं होता है, तो आप वास्तव में इसका मतलब है।

◆जब कोई लड़की आपको अपनी समस्याओं के बारे में बताती है, तो इसका मतलब यह नहीं है कि वह शिकायत कर रही है। इसका मतलब है कि वह आप पर भरोसा करती है!

◆आपकी समस्या वास्तव में कभी आपकी समस्या नहीं है। आपकी समस्या पर आपकी प्रतिक्रिया आपकी समस्या है।

◆आप जितना अमीर बनते हैं, उतनी ही महंगी खुशी बन जाती है।

◆कभी भी लोगों से अपेक्षा न करें कि वे आपकी सराहना करेंगे। इसका मतलब है कि कोई आपकी खुशी को नियंत्रित कर रहा है।

◆अगर कोई आपको पसंद नहीं करता है तो आप कभी भी चिंतित न हों। क्योंकि कोई हमेशा एक ही कारण से आपको अधिक पसंद करेगा।

◆हम लोगों को प्यार नहीं करते क्योंकि वे सुंदर हैं। लेकिन वे हमें सुंदर लगते हैं क्योंकि हम उनसे प्यार करते हैं।

◆आप कभी नहीं जानते कि आप कितने मजबूत हैं जब तक कि मजबूत होना एकमात्र विकल्प नहीं है।

◆लोग समझने के लिए नहीं सुनते लेकिन जवाब देने के लिए सुनते हैं।

◆यदि आपको संदेह है कि कोई आपका पीछा कर रहा है, तो चार सही(Right) मोड़ लें। यदि वे अभी भी आपके पीछे हैं, तो वे आपका अनुसरण कर रहे हैं।

नकारात्मक चीजों को लिखना और उन्हें कचरे के डिब्बे में फेंकना, एक मनोवैज्ञानिक चाल है जो आपके मूड को बेहतर बना सकती है।
◆जब आप अपने जीवन से अनावश्यक लोगों को हटाते हैं, तो आपके लिए अच्छी चीजें होने लगेंगी और यह एक संयोग नहीं होगा।

◆किसी प्रियजन की तस्वीर को देखने से दर्द से राहत मिल सकती है।

◆जो महिलाएं महिला मित्रों की तुलना में अधिक पुरुष मित्र रखना पसंद करती हैं, वे खुश, स्वस्थ और लंबे समय तक जीवित रहती हैं।

◆जब वे उन चीजों के बारे में बोलते हैं जो वास्तव में रुचि रखते हैं, तो लोग अधिक आकर्षक लगते हैं।

◆अनुभवों पर खर्च किया गया धन हमेशा आपके लिए अधिक मूल्य रखेगा।

◆यदि आपका पास किसी पर क्रश है, तो आपके मस्तिष्क का उस व्यक्ति से झूठ बोलना असंभव होगा।

◆मनोविज्ञान कहता है, आपकी भावनाएं जितनी गहरी होंगी, वे व्यक्त करने में उतनी ही कठिन होंगी।

◆एक लड़की का पसंदीदा गीत आपको उसके होठों की तुलना में उसकी भावनाओं के बारे में अधिक बताएगा।

◆यदि आप रात में अपने विचारों की धारा को रोक नहीं सकते हैं, तो उठो और उन्हें लिखो। इससे आपका दिमाग आराम से सेट हो जाएगा ताकि आप सो सकें
◆यदि कोई आपकी प्रतीक्षा करता है, तो इसका मतलब यह नहीं है कि उनके पास करने के लिए और कुछ नहीं है। इसका मतलब सिर्फ इतना है कि आपके अलावा और कुछ भी महत्वपूर्ण नहीं है .!

◆हमेशा उन लोगों के सामने खुश रहें जो आपको पसंद नहीं करते हैं। यह उन्हें (hurt)मारता है।

◆जब कोई आपको प्रभावित करने की कोशिश करता है, तो इसका मतलब है कि वे पहले से ही आपसे प्रभावित हैं!

◆दुनिया में कोई भी आपसे झूठ नहीं बोल सकता है यदि वे आपकी आंखों में देखते हैं।
कम आत्मसम्मान वाले लोग दूसरों को अपमानित करते हैं।

◆जो लोग अक्सर वीडियो गेम खेलते हैं वे गैर-गेमर्स की तुलना में आकर्षक सपने देखने की अधिक संभावना रखते हैं।

◆जो लोग मूर्खतापूर्ण चुटकुलों पर भी हंसते हैं वे सबसे उदास व्यक्ति होते हैं।

◆सुनने के बाद भी आप संगीत को गुनगुनाते हैं, भले ही आपको सुनने का इरादा न हो।

◆ज्यादातर लोग अपने पैरों को हिलाना या अपने सपनों की वजह से सोते समय गिरने का एहसास करते हैं।

◆यदि आप दूसरों की सहानुभूति अर्जित करने के लिए अपनी कमजोरी को स्वीकार करते हैं, तो आप लोगों को अपनी कमजोरी का फायदा उठाने का अच्छा मौका देते हैं।

◆एक नए व्यक्ति से बात करने से पहले, आपकी ओर से एक मुस्कान आपके प्रति उनके सकारात्मक दृष्टिकोण को प्राप्त करती है!

◆जब कोई अपने पैर फैलाकर बैठा हो और आपसे बात कर रहा हो, तो वह व्यक्ति आपके बारे में उत्सुक है।

यह भी पढ़े-




Sunday, 21 April 2019

डबलरोटी(Bread) और केक में छेद(Holes) क्यों होते हैं?(Know Scientific Fact)

हमारे आस पास ऐसी कई घटनाएं दैनिक जीवन में होती है जिनके पीछे एक वैज्ञानिक कारण(Scienctific Reason) होता है लेकिन लोग इससे अनजान होते हैं इसीलिए आज हम नई Searies इस ब्लॉग पर स्टार्ट करने जा रहे हैं जिसका नाम है साइंटिफिक फैक्ट(वैज्ञानिक तथ्य) जिसमें आप ऐसे ही कई घटनाओं के बारे में जान पाएंगे जिससे आप आज तक अनजान थे और हर एक आर्टिकल में जानने को मिलेगी एक Interesting Knowledge In Hindi तो आप Blog VisionHindi को Follow करना ना भूले!

साइंटफिक फैक्ट की श्रंखला में आज हम जानेंगे कि डबलरोटी और केक में छेद(Holes)क्यों होते हैं?(Why Are The Holes In Bread And Cake?) जो Fact आपको जरूर पसन्द आएंगे।


Why Are Holes In Bread And Cake(hindi)

डबलरोटी और केक में छेद क्यों होते हैं?(Know Scientific Fact)
संसार के लगभग सभी देशों में डबल रोटी को एक प्रमुख खाद्य पदार्थ के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। अलग अलग देशों में डबल रोटी अलग-अलग पदार्थों से बनाई जाती है।
अधिकतर डबल रोटी गेहूं के आटे या मैदा से बनाई जाती है पर कुछ स्थानों पर यह चावल,आलू, मटर या जौ आदि के आटे से भी बनाई जाती है।
डबल रोटी बनाने कि शुरुआत ईसा से लगभग 3000 वर्ष पूर्व मिस्र में हुई थी।खमीर का आविष्कार भी वहीं हुआ था।
आजकल डबल रोटी के निर्माण में गेहूं से बनी मैदा को पानी के साथ गूंथ लिया जाता है।इसमें थोड़ा सा खमीर मिला लिया जाता है।
खमीर एक प्रकार का फफूंदी होता है। मैदा की गर्मी और नमी के कारण यह तेजी से बढ़ता है। इसके बढ़ने में कुछ गैस पैदा होती हैं और इसके बुलबुलों के कारण गूंथी हुई मैदा का आयतन भी बढ़ जाता है।
जब इसे गर्म भट्टियों में सेंका जाता है और ये गैस के
बुलबुले फूट-फूटकर कर डबल रोटी में छोटे-छोटे छेद पैदा कर देते हैं। इसी खमीर के कारण डबल रोटी में गंध और स्वाद पैदा हो जाता है।
जबकि केक में टारटेरिक एसिड और सोडियम बाइकार्बोनेट का मिश्रण मिलाते हैं जिसे बेकिंग सोडा कहा जाता है। जब इन दोनों को मिलाकर आटे के साथ गीला करके पकाया जाता है तो कार्बन डाइऑक्साइड गैस निकलती है। इसी गैस के बुलबुलों के फूटने से केक में छोटे-छोटे छेद हो जाते हैं।

Read Some More Article:-


Conclusion:- ऊपर दिए गए कारण के वजह से ही ब्रेड और केक के बीच मे होल्स पाए जाते है तो दोस्तो आप पर जानकारी कैसी लगी हमें कमेंट के माध्यम से जरूर बताएं और इस Blog को फॉलो करना ना भूलें और ऐसी ही इंटरेस्टिंग जानकारी के लिए भविष्य में हमारे साथ बने रहे।

Friday, 19 April 2019

बिजली का झटका लगने से इंसान की मौत क्यों हो जाती है?Scientfic Fact

हमारे आस पास ऐसी कई घटनाएं दैनिक जीवन में होती है जिनके पीछे एक वैज्ञानिक कारण(Scienctific Reason) होता है लेकिन लोग इससे अनजान होते हैं इसीलिए आज हम नई Searies इस ब्लॉग पर स्टार्ट करने जा रहे हैं जिसका नाम है साइंटिफिक फैक्ट(वैज्ञानिक तथ्य) जिसमें आप ऐसे ही कई घटनाओं के बारे में जान पाएंगे जिससे आप आज तक अनजान थे और हर एक आर्टिकल में जानने को मिलेगी एक Interesting Knowledge In Hindi तो आप Blog VisionHindi को Follow करना ना भूले!

आपने अपने आसपास के लोगों से कई बार सुना होगा यह न्यूज़ में पड़ा होगा कि किसी भी व्यक्ति किसी व्यक्ति की मृत्यु बिजली का करंट लगने से हो गई है तो आज हम जानेंगे कि इसके पीछे क्या कारण है कि बिजली का झटका लगने से इंसान की मौत हो जाती है?
बिजली का झटका लगने से मौत क्यो होती है? Scientific Fact

बिजली का झटका लगने से इंसान की
मौत क्यों हो जाती है?

ऐसा होता है क्योकि हमारे शरीर में पानी की मात्रा अधिक पाई जाती है और जब इंसान को बिजली का झटका लगता है तो बिजली शरीर में मौजूद पानी को पूरी तरह से जला देती है और ऐसा होने पर खून भी जम(गाढ़ा) हो जाता है।
खून के गाढ़े होने के कारण खून का शरीर में प्रवेश इतना धीमा होता है कि खून शरीर के सारे अंगों तक पहुंच ही नहीं पाता। खून के बिना शरीर के सारे अंग काम करना बंद कर देते हैं और मौत हो जाती है।
इसलिए बिजली का इस्तेमाल करते समय एक पल की लापरवाही भी नही करनी चाहिए यह हमारे जीवन के अंत का कारण भी बन सकती है।अतः बिजली का उपयोग करते समय सावधानी ज़रूर रखे और सुरक्षित बने रहिए।


तो आपको यह आर्टिकल कैसा लगा,कमेंट करके बताये और ऐसे Scientfic and Knowledgable Article के लिए हमारे साथ बने रहे।