Press "Enter" to skip to content

खुद को बेहतर बनाने के 10 Super टिप्स।10 Amazing Self ImproveMent Tips In Hindi

What Is Self Improvement?Self Improvement Tips In Hindi

आत्म-सुधार(Self Improvement) एक आसान प्रक्रिया नहीं है।खुद को बेहतर बनाने का मतलब है कि हम यह स्वीकार नहीं कर रहे हैं कि यह सही है और हमें सीखने की जरूरत है बल्कि (Self Improvement) खुद को बेहतर बनाने का मतलब है कि हमारे कम्फर्ट जोन से बाहर जाना और उन लक्षणों को अपनाना जो हमारे लिए नए और भविष्य के लिए लाभदायक हैं।

Self Improvement Tips In Hindi

हम इस लेख में SELF IMPROVEMENT TIPS in Hindi देने जा रहे है जो आत्म सुधार(Personality Development)में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे।यहां दिए गए (Principle) सिद्धान्त निश्चित ही आपको सफल बनाएंगे।

खुद को बेहतर बनाने के 10 Super टिप्स।10 Amazing  Self ImproveMent Tips In Hindi! Personality Development Tips

Self Improvement एक Reguler चलने वाली प्रक्रिया है।ज़ाहिर सी बात है परिणाम दिखने में समय लगता है और खुद को बेहतर एक दिन में नही बनाया जा सकता है तो नीचे दिए गए Self ImproveMent Tips को भी आप को निरंतर Follow करना ही होगा।

1.Develop Good Habits(अच्छी आदतों का विकास करे)

हम सब मे कुछ ऐसी Habit होती है जो बुरी होती है या कुछ अच्छी आदतें हमारे अंदर पहले से मौजूद नही होती है।तो हमे इन Habits को Analyze(विश्लेषण) करके इन्हें बदलना चाहिए।

वो कहते हैं ना कि किसी चीज को आदत में बदलने के लिए लगभग 3 सप्ताह या 21 दिन लगते हैं। जो भी लक्ष्य की ओर आप काम करना चाहते हैं, उसे लक्ष्य को समझकर हर रोज कुछ समय के लिए उस काम को करने के लिए देना चाहिए।

आपके जीवन में अच्छी आदतों को बढ़ाने के लिए यह नियम कारगर है।

2.DisConnect Technology(टेक्नोलॉजी से नाता तोड़ ले):-

सप्ताह में एक दिन ऐसा चुनें (एक दिन जो सबसे व्यस्त नहीं है) और अपने सभी सोशल मीडिया से डिस्कनेक्ट हो जाये। यदि संभव हो तो अपने फोन का उपयोग करने से बचें।

इन दिनों प्रत्येक व्यक्ति सामान्य रूप से सोशल मीडिया से जुड़ा हुआ है और इससे अलग होना हमें अहसास दिलाता है कि हम इसके बिना अभी भी एक इंसान हैं।

3.Be Thankful (आभार व्यक्त करे)

हम सभी के जीवन में कई ऐसी घटनाएं होती है इतना खुश होते हैं और बाद में उनका अफसोस मनाते हैं लेकिन इसी के साथ हमारे जीवन में कुछ अच्छी घटनाएं भी होती है और रोज कुछ ना कुछ अच्छा ज़रूर होता है तो हमे बुरी घटनाओं को भुलाकर अच्छी बातों के लिए लोगों व ईश्वर का आभार ज़रूर व्यक्त करें।

4.(Plan Your Next Day)अपने दिन की योजना आगे करें।

अपनी डायरी के साथ बैठें और वह सब कुछ लिखें जो आपको आने वाले दिन करने की आवश्यकता है। जब आप एक सूची लिखते हैं तो आपके पास चलाने के लिए एक ट्रैक होता है, उद्देश्य उतना महत्वपूर्ण नहीं होता जितना कि काम पूरा करना।

सुबह एक चेकलिस्ट बनाने से आपको अपने कार्यों और लक्ष्यों को समझने में मदद मिलती है, जो आपको दिन में करने की आवश्यकता होती है। एक सूची लिखना आपकी सोच को स्पष्ट करता है और यह आपको अपने लक्ष्यों तक पहुंचने में मदद करेगा।

इसके लिए आप ऑनलाइन Apps की मदद से To Do Listभी बना सकते है जो टाइम Management में आपकी Help करेंगे।

5.(Fix Your Priorities)अपनी सूची में प्राथमिकताएँ निर्धारित करें

यदि आपके पास करने के लिए चीजों की सूची में 10 काम हैं, तो दो एक साथ रखी गई अन्य वस्तुओं की तुलना में अधिक महत्वपूर्ण होंगे।

अपनी सूची में जाएं और अपने Important लक्ष्यों और कार्यों को प्राथमिकता दें। एक बार जब आप इन सबसे महत्वपूर्ण कार्यों की पहचान कर लेते हैं, तो यह आपको अपना दिन शुरू करने के अंतिम चरण में ले जाता है।

6.Productivity(आउटपुट बढ़ाये)

सबसे महत्वपूर्ण कार्य पहले पूरा करें। अपने सबसे महत्वपूर्ण कार्य पर तुरंत शुरू करें और उस पर ध्यान केंद्रित करें और पूरा होने तक इसे ही करें।

आप हर एक दिन अपने सबसे महत्वपूर्ण कार्यों की योजना, शुरुआत और उन्हें पूरा करके अपनी उत्पादकता को 50% तक बढ़ा सकते हैं।

7.Observe(अवलोकन करें)

अपने परिवेश व अपने आसपास के लोगों का निरीक्षण करें।हर किसी से कुछ न कुछ सीखने को मिलता है।अर्थात जब हम वास्तव में लोगों का निरीक्षण करते हैं, तो हम उन छोटे गुणों को समझते हैं जो हम उनसे सीख सकते हैं बल्कि हम उन सबसे बड़ी गलतीयो के बारे में भी सीखते है जो लाइफ में आगे हम करने से बचे रह सकते है।

8.Analyze(विश्लेषण करें)

जब आप लोगों का निरीक्षण करते हैं और उनमें गुण देखते हैं, तो उन लक्षणों का वास्तव में विश्लेषण करने का समय आ गया है।आपको यह पता लगाने की जरूरत है कि आप किस विशेषता को अपना सकते हैं और खुद को सुधार सकते हैं।

आपको गुणों का विश्लेषण करने और खुद को बेहतर बनाने के लिए एक योजना तैयार करने की आवश्यकता है।

9.Adopt(अपनाएं)

एक बार जब आप विश्लेषण कर लेते हैं और जिन गुणों को आपको अपनाने की आवश्यकता होती है, उन्हें शॉर्टलिस्ट कर लेते हैं, तो अगला कदम आपके दिन-प्रतिदिन के कामकाज में उन गुणों को अपनाना है।

10.Persist(दृढ़ता)

कुछ नया अपनाना कभी भी आसान नहीं होता है, और आप उन समय का सामना करेंगे जहां आप अपने पिछले रूप में वापस जाना चाहेंगे और यही वह समय जब दृढ़ता खेल में आती है। “आपको खुद पर विश्वास करने और हार न मानने की जरूरत है।”

बस लड़ते रहो, और तुम अपने आप को सुधार पाओगे।

11.(Evolve)विकसित होना

बहुत जल्द, आप पाएंगे कि आप एक बेहतर व्यक्ति के रूप में विकसित हो गए हैं। आप अधिक खुश और अधिक आत्मविश्वास(Self Confidence) महसूस करेंगे।और यही विकास की सही परिभाषा है।

एक बार जब आप एक बेहतर स्वयं विकसित हो जाते हैं, तो आप उसी चक्र को फिर से दोहरा सकते हैं।Self development एक सतत प्रक्रिया है, और इसलिए Self Improvementt Tips in hindi की यह Series आपकी मदद करेगी।

TAGS:-
self improvement tips pdf,self improvement goals,self improvement tips in hindi,self improvement articles,self improvement topics,personal development tips
शेयर करे(SHARE THIS)

Be First to Comment

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *