Top 10 Up Government Schemes|यूपी सरकार द्वारा शुरू की गई 10 योजनायें

यूपी सरकार द्वारा शुरू की गई 10 योजनायें (Up Government Schemes list)

किसी भी देश में जनता के लिए सरकार अलग-अलग तरह की योजना शुरू करती है. योजना किसी शुरुआत केंद्र सरकार और राज्य सरकार द्वारा की जाती है. केंद्र सरकार द्वारा जारी योजना का लाभ पूरा देश उठाता है. वही राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई योजनाओं का लाभ सिर्फ राज्य के लोगों को ही मिलता है. आज हम यूपी सरकार द्वारा जारी की गई कुछ योजनाओं के बारें में बताने वाले हैं. यूपी सरकार ने यूपी के लोगों के लिए अलग-अलग अनेक योजनाओं की शुरुआत की है. इन योजनाओं विवरण (Up Government Schemes list) इस तरह है. 

यूपी सरकार ने अनेक योजनायें प्रारंभ की है, हम यहाँ पर मुख्य 10 योजनाओं की चर्चा कर रहे है जो हाल ही में कुछ वर्षों में शुरू की गई है. इन योजनाओं से आम जनता को क्या लाभ मिला है या फिर क्या लाभ मिलेगा इसके बारें में पूरी जानकारी यहाँ मिलेगी. 

Up Government Schemes

उत्तरप्रदेश भाग्य लक्ष्मी योजना 

यूपी सरकार द्वारा अभी 2020 की शुरुआत में यह योजना प्रारंभ की गई है. इस योजना के अनुसार यदि किसी BPL परिवार में बेटी का जन्म होता है तो बेटी की माँ को 50,000 रूपए की मदद मिलेगी. इसमें महिला को अलग-अलग वर्षों में Bond राशि प्रदान की जायेगी. बेटी के जन्म के बाद 3000 रूपए और बेटी की पढाई के वक्त 2000 रूपए और बेटी जब 6 वीं में हो जाती है तब 8000 रूपए ऐसे ही बेटी जब 18 वर्ष की होती है तो उसे बाकी के रूपए दिए जाते हैं. कुलमिलाकर सरकार द्वारा 50,000 रूपए की मदद की जायेगी. 

योजना का नाम भाग्य लक्ष्मी योजना 
योजना की शुरुआत 2020 
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 
लाभ बेटी के जन्म पर साहयता राशि 
राशि 50,000 रूपए 

शादी अनुदान योजना उत्तरप्रदेश 

इस योजना की शुरुआत यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने 5 दिसंबर 2016 को की थी. इस योजना के अनुसार प्रदेश में किसी भी गरीब व्यक्ति द्वारा अपनी बेटी की शादी करने पर सरकार की तरफ से उसे 20 हजार रूपए की मदद करता है. यह रकम लाभार्थी के बैंक खाते में जाती है. यहाँ सरकार द्वारा दो लड़कियों की शादी तक मदद की जाती है. इस योजना का लाभ उत्तरप्रदेश के उन लोगों को मिलती है जिनकी सालाना आय 56 हजार रूपए से भी कम होती है. ऐसे लोगों की बेटी की शादी में सरकार 20 हजार रूपए तक की मदद करती है. इस शादी अनुदान योजना से जुडी अधिक जानकारी आप इस लेख में ले सकते हैं। 

योजना का नाम शादी अनुदान योजना 
योजना की शुरुआत 5 दिसंबर 2016 
मुख्यमंत्री अखिलेश यादव 
लाभ गरीब किसानो एंव लोगों की बेटियों की शादी में सरकार द्वारा मदद राशि देना. 
मदद राशि 20 हजार रूपए

यूपी विकलांग कल्याण योजना 

यूपी सरकार में समान्य लोगों के अलावा विकलांग लोगों के जीवन को सुधारने के लिए विकलांग कल्याण योजना को शुरू किया गया है. इस योजना की शुरुआत 2017 में हुई थी. इस योजना के अनुसार 40 प्रतिशत अक्षमता वाले लोग एंव उनकी उम्र 18 वर्ष है तो सरकार उन्हें 500 रूपए पेंशन देने की योजना शुरू कर चुकी है. इस योजना के अनुसार विकलांग लोगों के जीवन यापन करने के लिए उन्हें पेंशन दी जा रही है. इसका आवेदन ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह से किया जा सकता है. 

योजना का नाम विकलांग कल्याण योजना 
शुरुआत 2017 
लाभ  विकलांगो के कल्याण हेतु 
राशि 500 रूपए हर महीने. 

विधवा पेंशन योजना, उत्तरप्रदेश 

यूपी सरकार ने गरीब महिलाओं एंव विधवा महिलाओं के अच्छे जीवन के लिए विधवा पेंशन योजना की शुरुआत काफी वर्षों पहले कर दी थी. हाल ही में इस योजना में कुछ सुधारे हुए है. इस योजना के अनुसार किसी भी विधवा स्त्री को पेंशन तब मिलेगी जब उसके घर में कोई 25 वर्ष से ज्यादा की उम्र का व्यक्ति नहीं होगा. ऐसी स्थिति में सरकार उन विधवा महिलाओं को 300 रूपए विधवा पेंशन के रूप में देगी. सरकार मुख्य रूप से उन महिलाओं को इस योजना का लाभ देगी जो BPL लिस्ट में शामिल है. 

योजना का नाम विधवा पेंशन योजना 
योजना का लाभ विधवा महिलाओं को मिलेगा 
राशि 300 रूपए हर महीने 

मुख्यमंत्री पेंशन योजना 

इस योजना की शुरुआत पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने समाजवादी पेंशन योजना 2014-15 में की थी. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस योजना का नाम बदलकर मुख्यमंत्री पेंशन योजना रख दिया है. इस योजना के अनुसार शहरी और ग्रामीण क्षेत्र के लोग जिनके पास रोजगार नहीं है और आय का कोई साधन नहीं है. उन्हें 300 रूपए से 750 रूपए तक की मदद राशि दी जाती है. सरकार 40 लाख परिवारों को इस योजना का लाभ देती है. इसमें परिवार के एक मुखिया को यह मदद राशि दी जाती है. 

योजना का नाम मुख्यमंत्री पेंशन योजना (समाजवादी पेंशन योजना)  
शुरुआत 2014-15  
लाभ घर के मुख्या को इस योजना का लाभ दिया जाता है. 
मदद राशि 300 से 750 रूपए तक. 

मुख्यमंत्री किसान सर्वहित बीमा योजना 

यूपी सरकार ने किसानो एंव गरीब लोगों के लिए मुख्यमंत्री किसान सर्वहित बीमा योजना को शुरू किया है. इस योजना का नाम पहले समाजवादी सर्वहित किसान बीमा योजना था. इसका नाम मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बदल दिया है. इस योजना के अनुसार किसानो को 2 लाख रूपए तक की मदद दी जायेगी. इस योजना का लाभ वे लोग उठा सकते है जिनकी वार्षिक आय 50,000-70,000 रूपए तक है. 

योजना का नाम मुख्यमंत्री किसान सर्वहित बीमा योजना 
लाभ किसानो एंव गरीब लोगों का बीमा 
मदद राशि 2 लाख रूपए 

मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार योजना 

यूपी सरकार में योगी आदित्यनाथ द्वारा एक अनोखी पहल की गई है. उन्होंने मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार योजना शुरू की है. इस योजना की शुरुआत पंडित दीनदयाल के नाम से शुरू किया है. इस योजना के तहत ग्रामीण युवा अपना खुद का कार्य शुरू करने के लिए लोन ले सकते हैं. इसमें सरकार 15 लाख रूपए तक की मदद करेगी और यह ऋण सरकार की तरफ से युवा को बिजनस करने के लिए दिया जाएगा. इस ऋण को प्राप्त करने के लिए सरकार को युवा द्वारा शुरू किये जाने वाले कार्य की जानकारी देनी होगी. 

योजना का नाम मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार योजना 
शुरुआत 2019-20
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 
लाभ युवाओं को अपना बिजनस करने के लिए ऋण देना. 
राशि 15 लाख रूपए तक का ऋण दिया जाएगा. 

मुफ्त बिजली कनेक्शन योजना 

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गरीबी रेखा से निचे बसर करने वाले परिवारों को फ्री में बिजली कनेक्शन देने के लिए योजना को शुरू किया है. इस योजना के अंतर्गत BPL परिवार में अगर बिजली कनेक्शन नहीं है तो उनके लिए उनके गाँव इत्यादि में कैंप लगाया जाता है. इस कैंप का हिस्सा बनकर धारक फ्री में बिजली कनेक्शन ले सकता है. इस योजना का लाभ सभी गरीब लोगों को मिलेगा एंव यूपी सरकार का सपना है की किसी भी गरीब के घर में अँधेरा नहीं होना चाहिए. 

योजना का नाम मुफ्त बिजली कनेक्शन 
लाभ गरीब लोगों को बिजली कनेक्शन फ्री में दिया जाएगा 

इंदिरा गाँधी वृद्धावस्था पेंशन योजना 

केंद्र सरकार एंव राज्य सरकार दोनों ने मिलकर वृद्ध पेंशन योजना की शुरुआत की है. इस योजना को यूपी राज्य में भी शुरू किया गया है. इस योजना के अनुसार वृद्ध लोगों को पेंशन दी जाती है. उन्हें हर महीने साहयता राशि दी जाती है. इस योजना का लाभ 60 से 70 वर्ष की आयु वाले लोगों को दिया जा रहा है. उन्हें हर माह 300 रूपए मदद राशि दी जाती है. 

योजना का नाम इंदिरा गाँधी वृद्धावस्था पेंशन योजना 
शुरुआत केंद्र सरकार एंव राज्य सरकार द्वारा की गई 
लाभ वृद्ध महिला एंव पुरुष को मदद राशि दी जाती है 
राशि 300 रूपए 

गंभीर बीमारी साहयता योजना 

योजना का नाम गंभीर बीमारी साहयता योजना 
शुरुआत 2018-19
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 
लाभ गरीब लोगों को गंभीर बीमारी या ओपरेशन में साहयता करना. 
राशि ईलाज में लगने वाला सम्पूर्ण खर्च  

यूपी सरकार ने BPL धारकों एंव गरीब लोगों को बीमारी में मदद करने के लिए ‘गंभीर बीमारी साहयता योजना’ शुरू की है. इस योजना में उन लोगों को लाभ मिलेगा जो किसी गंभीर बीमारी जैसे हृदयरोग, लीवर, गुर्दा, कैंसर और किसी ओपरेशन में सरकार द्वारा मदद की जायेगी. इस योजना की शुरुआत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने की है. इस योजना का लाभ उन लोगों को दिया जाएगा जो गरीब है एंव किसी भी तरह का टैक्स नहीं देते है. ऐसे लोगों का सरकार फ्री में ईलाज करवाएगी. 

निष्कर्ष 

उत्तरप्रदेश सरकार ने जनता की मदद के लिए अनेक योजनाओं को शुरू किया है. इन योजनाओ का लाभ आज यूपी की जनता उठा रही है. यदि आपका इन योजनाओं से जुड़ा कोई सवाल है तो आप यहाँ कमेंट लिख सकते हैं. हम इन सरकारी योजनाओं( Up Government Schemes) से जुड़े सवालों का जवाब देने की कोशिश करेंगे. 

Share on:

Leave a Comment